Thought of Day

ABOUT SANATAN DHARAM

सृष्टि की रचना के साथ प्राणिमात्र के नियामक तत्व के रूप में जिन नियमों का परमात्मा की इच्छा से आविर्भाव हुआ उसे ही 'सनातन धर्म' कहा गया और वह अविच्छिन्न रूप में प्रवाहित है।उसी से अनेक शाखाएं फूटती ही और कालान्तर में उसी में समाती भी गई। धर्म न तो किसी विशेष मान्यता का नाम हैं न आचार विचार और परम्पराओं का नाम हैं और न ही कोई व्यक्ति उसकी जनक होती है। वह तो एक अनादि तत्व है और...

Read more

Temples

  • font

    श्रीकृष्ण मंदिर सभा, मालवीय नगर

    यह मंदिर मालवीय नगर का प्रसिद्ध मंदिर है| इस मंदिर में भरी मात्रा में भग्त पूजा करने आते है | यहाँ औषधालय व महिला योग क्लासेज भी उपलब्ध है |

    Find out More
  • front

    श्री सनातन धर्म मंदिर

    श्री सनातम धर्म मंदिर साकेत का प्रसिद्ध मंदिर है यहां पर श्रद्धालु भारी संख्या में पूजा करने आते हैं | यहाँ मुफ्त चिकित्सालय भी मौजूद है जो की  बीमार लोगो का इलाज करता है |

    Find out More
  • sant nagar mandir

    श्री सनातन धर्म सभा मंदिर

    यह मंदिर संत नगर के आस पड़ोस में सबसे प्रसिद्ध हैं। यहाँ शद्धालुओं की संख्या में अपार रूप से दिन-प्रतिदिन वृद्धि हो रही हैं। सनातन धरम सभा से पंजीकृत होने के साथ-साथ यही मैरिज ब्यूरो भी मंदिर प्रबंधन द्वारा चलाया जाता है जोकि समाज से पिछड़े वर्ग अथवा गरीब परिवार के लिए उपलब्ध है।

    Find out More
  • ragunath mandir A block kalkaji

    श्रीं रघुनाथ मंदिर सभा, कालकाजी

    श्रीं रघुनाथ मंदिर सभा, कालकाजी, नई दिल्ली में प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यह ए ब्लॉक, डबल स्टोरी, कालकाजी, नई दिल्ली में स्थित है। इस मंदिर में, भगवान की एक प्रतिमा है, जो करीब 160 साल पुरानी है, जो पड़ोस के श्रधालुंओं में मुख्य आकर्षण है। इसके अलावा मंदिर सभा ने भी औषधालय तथा

    Read More

    Find out More
  • Shri Kal Bhairav Mandir, Jhandewalan

    Prachin Shri Kaal Bhiarav Mandir, Jhandewalan

    प्राचीन श्री काल भैरव मंदिर (झंडेवालान) का निर्माण सन 1860 में हुआ था । यह मंदिर बहुत पुराना मंदिर हैं ।

    Find out More
  • Shri Sanatan Dharam Sabha, Moti Nagar

    Shri Sanatan Dharam Sabha, Moti Nagar

    मंदिर का निर्माण सन 1953 मे श्री दिलबाग राय मगो जी, ॐ प्रकाश गुप्ता और शिव शंकर अग्रवाल जी ने मिलकर करवाया ।

    Find out More
  • Shri laxmi Narayan Mandir, Geeta Bhawan

    Shri Laxhmi Narayan Mandir (Geeta Bhawan)

    कीर्ति नगर श्री सनातन धर्म सभा द्वारा गीता भवन में आध्यात्मिक क्रियाओं के माध्यम से सिर्फ लोक कल्याण ही नहीं किया जाता वल्कि स्वस्थ व दैनिक राष्ट्र के लिए स्वस्थ्य नागरिक बनाकर सामाजिक दायित्व को निभाने का प्रयास भी रहता है । कीर्ति नगर श्री सनातन धर्म समा पिछले 48 वर्षों से धार्मिक त्योहारों का

    Read More

    Find out More
  • Prachin Shri Sanatan Dharam Sabha, Pitampura

    Prachin Shri Sanatan Dharam Sabha, Pitampura

    इस मंदिर का निर्माण सन 1985 जय भगवान गोयल ने और सभी कार्यकर्णी न मिले कर करवाया था ।

    Find out More
  • Shri Sanatan Dharam Sabha

    Shri Sanatan Dharam Sabha, New Moti Nagar

    1963 मे स्व श्री शिव दास पूरी जी और समस्त कार्यकर्णी ने मिलकर मंदिर का निर्माण करवाया था ।

    Find out More
  • Banner (1)

    Nilkhand Mandir, Patel Nagar East

    1995 मे समस्त कार्यकरणी ने बनवाया

    Find out More
Gods

Questions & Answers

सनातन धर्म में सभ्यता क्या है?

सनातन धर्म जिसे हिन्दू धर्म अथवा वैदिक धर्म भी कहा जाता है, का १९६०८५३११० साल का इतिहास हैं। भारत (और आधुनिक पाकिस्तानी क्षेत्र) की सिन्धु घाटी सभ्यता में हिन्दू धर्म के कई चिह्न मिलते हैं। इनमें एक अज्ञात मातृदेवी की मूर्तियाँ, शिव पशुपति जैसे देवता की मुद्राएँ, लिंग, पीपल की पूजा, इत्यादि प्रमुख हैं। इतिहासकारों

Read More

धर्म क्या है?

(संस्कृत शब्द, अर्थात जो स्थापित हो यानी धर्म, रीति, विधि या कर्तव्य), पालि शब्द, धम्म। हिन्दू, बौद्ध और जैन धर्म में बहुअर्थी मूल अवधारणा। आज धर्म के जिस रूप को प्रचारित एवं व्याख्यायित किया जा रहा है उससे बचने की जरूरत है। मूलतः धर्म संप्रदाय नहीं है। ज़िंदगी में हमें जो धारण करना चाहिए, वही

Read More

मंत्र क्या है?

हिन्दू श्रुति ग्रंथों की कविता को पारंपरिक रूप से मंत्र कहा जाता है । इसका शाब्दिक अर्थ विचार या चिन्तन होता है । मंत्रणा, और मंत्री इसी मूल से बने शब्द हैं । मन्त्र भी एक प्रकार की वाणी है, परन्तु साधारण वाक्यों के समान वे हमको बन्धन में नहीं डालते, बल्कि बन्धन से मुक्त

Read More

हिंदू धर्म के बुनियादी सिद्धांत क्या हैं?

किसी भी धर्म के मूल तत्त्व उस धर्म को मानने वालों के विचार, मान्यताएं, आचार तथा संसार एवं लोगों के प्रति उनके दृष्टिकोण को ढालते हैं। हिंदू धर्म की बुनियादी पांच बातें तो है ही, (1.वंदना, 2.वेदपाठ, 3.व्रत, 4.तीर्थ, और 5.दान) लेकिन इसके अलावा निम्न ‍ को भी जानें:- ब्रह्म ही सत्य है: ईश्वर एक

Read More

हिंदू धर्म और अन्य धर्मों के बीच मुख्य अंतर क्या हैं?

हिंदू धर्म और अन्य धर्मों के बीच मुख्य अंतर:- सत्य निरपेक्ष है या सापेक्ष: हिन्दू धर्म में सत्य को निरपेक्ष माना गया है अर्थात सत्य इसलिए सत्य नहीं कि वह किसी आप्त पुरुष या ईश्वर द्वारा कथित है अपितु वह अपने आप में सत्य है इसलिए आप्त पुरुष ने सत्य को कथित किया है ।

Read More

प्रार्थना कैसे करे?

प्रार्थना एक धार्मिक क्रिया है जो ब्रह्माण्ड के किसी ‘महान शक्ति’ से सम्बन्ध जोड़ने की कोशिश करती है। प्रार्थना व्यक्तिगत हो सकती है और सामूहिक भी। इसमें शब्दों (मंत्र, गीत आदि) का प्रयोग हो सकता है या प्रार्थना मौन भी हो सकती है। जब आप भगवान के मंदिर में जाओ तो कहना कि, “हे भगवान

Read More

१२ राशि क्या हैं?

राशियाँ राशिचक्र के उन बाराह बराबर भागों को कहा जाता है जिन पर ज्योतिषी आधारित है। हर राशि सूरज के क्रांतिवृत्त (ऍक्लिप्टिक) पर आने वाले एक तारामंडल से सम्बन्ध रखती है और उन दोनों का एक ही नाम होता है – जैसे की मिथुन राशि और मिथुन तारामंडल। यह बारह राशियां हैं – मेष राशि

Read More

श्राद्ध क्या है?

हिन्दूधर्म के अनुसार, प्रत्येक शुभ कार्य के प्रारम्भ में माता-पिता, पूर्वजों को नमस्कार प्रणाम करना हमारा कर्तव्य है, हमारे पूर्वजों की वंश परम्परा के कारण ही हम आज यह जीवन देख रहे हैं, इस जीवन का आनंद प्राप्त कर रहे हैं। इस धर्म मॆं, ऋषियों ने वर्ष में एक पक्ष को पितृपक्ष का नाम दिया,

Read More



All FAQ

Panchang (पंचांग)

Delhi, India Sun 21 Oct 2018
Sunrise (सूर्यूदय): 06:25 Sunset (सूर्यास्त): 17:45 Moonrise (चंद्रोदय):16:05 Moonset (चंद्रअस्त ): 27:57+ Tithi (तिथि): Dwadashi upto 21:31 Var (वार): रविवार

More...

Festival SMS Alert